विश्व रक्तदान दिवस के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी -Information about World Blood Donation Day

0
2667
प्रत्येक वर्ष 14 जून के दिन विश्व रक्तदान दिवस (World Blood Donation Day) के रूप में मनाया जाता है इसे विश्‍व रक्‍त दाता दिवस (World Blood Donor Day) भी कहा जाता है विश्व रक्तदान दिवस (World Blood Donation Day) विश्व स्वास्थ्य संगठन के द्वारा मनाया जाता है तो आइये जानते हैं विश्व रक्तदान दिवस के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी  – Important Information about World Blood Donation Day
Important Information about World Blood Donation Day

विश्व रक्तदान दिवस के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी  – Important Information about World Blood Donation Day – Vishv Rakt Daan Divas

यह भी पढें – विश्व धूम्रपान निषेध दिवस के बारे में महत्‍वपूर्ण जानकारी

दरअसल प्रत्येक वर्ष कई लगों की मौत रक्‍त न मिलने की वजह से या फिर बिषेलै रक्‍त की वजह से हो जाती है इसी को देखते हुऐ स्वैच्छिक रक्तदान नीति की नींव डाली गई और विश्‍व रक्‍त दान दिवस (World Blood Donation Day) की शुरूआत की गई विश्व रक्तदान दिवस की शुरुआत वर्ष 1997 में हुई थी इस दिन को  विख्यात ऑस्ट्रियाई जीवविज्ञानी और भौतिकीविद कार्ल लैंडस्टीनर (Carl Landsteiner) के जन्मदिन की याद में 14 जून 1868 को मनाया जाता है इन्‍हें  वर्ष 1930 में शरीर विज्ञान में नोबेल पुरस्कार (Nobel Prize) से नवाजा गया था इन्‍होंने रक्‍त के अलग-अलग रक्‍त समूह ए, बी, ओ में वर्गीकरण किया था वर्ष 2004 में “विश्व स्वास्थ्य संगठन, अंतरराष्ट्रीय रेड क्रॉस संघ तथा रेड क्रिसेंट समाज” के द्वारा 14 जून को वार्षिक तौर पर इसे पहली बार मनाया और तब से लेकर आज तक यह दिवस लगातार मनाया जा रहा है इस अभियान के तहत प्रति वर्ष हजारों लोंगों की जान बचाई जा रही है

विश्व रक्तदान दिवस की थीम – Theme of World Blood Donor Day

2018 – “खून हम सबको जोडता है”
2017 – “खून दें अभी दें अक्‍सर दें”
2016 – “विश्व रक्तदान दिवस”
2015 – “मेरा जीवन बचाने के लिये धन्यवाद।”
2014 – “माताओं को बचाने के लिये रक्त बचायें।”
2013 – “जीवन का उपहार दें:रक्त-दान करें।”
2012 – “हर खून देने वाला इंसान हीरो होता है।”
2011 – “अधिक रक्त, अधिक जीवन।”
2010 – “विश्व के लिये नया रक्त।”
2009 – “रक्त और रक्त के भागों का 100% गैर-वैतनिक दान को प्राप्त करना।”
2008 – “नियमित रक्त दें।”
2007 – “सुरक्षित मातृत्व के लिये सुरक्षित रक्त।”
2006 – “सुरक्षित रक्त के लिये विश्वव्यापी पहुँच को सुनिश्चित करने के लिये प्रतिबद्धता।”
2005 – “रक्त के आपके उपहार को मनायें।”

2004 – “रक्त जीवन बचाता है। मेरे साथ रक्त बचाने की शुरुआत करें”

Tag – World Blood Donor Day 2018, interesting facts about blood donation, blood donation day in india, national blood donation day

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here