भारत के संसद भवन के बारे में रोचक जानकारी – Interesting information about Parliament of India

0
826

भारत के संसद भवन को भारतीय लोकतंत्र का हृदय भी कहा जाता है संसद भवन में भारत की संसदीय कार्यवाही होती है ले‍किन भारत के संसद भवन के बारे में कुछ ऐसी बातें हैं जिन्‍हें आप नहीं जानते होंगे तो आइये जानते हैं भारत के संसद भवन के बारे में रोचक जानकारी – Interesting information about Parliament of India

भारत के संसद भवन के बारे में रोचक जानकारी – Interesting information about Parliament of India

  • इस भवन का शिलान्‍यास 12 फरवरी 1921 को ड्यूूक ऑफ कनॉट द्वारा किया गया था
  • ड्यूूक ऑफ कनॉट वही व्‍यक्ति हैं जिन्‍होंने इंडिया गेट की भी नींब रखी थी और दिल्‍ली में स्थित राजीव चौक नाम भी इन्‍हीं के नाम पर कनॉट प्‍लेस रखा गया था
  • संसद भवन को एड्विन लैंडसियर लूट्यन्स (Edwin Landseer Lutyens) और सर हर्बर्ट वेकर ने डिजायन किया था
  • इस भवन को बनने में 6 वर्ष और उस समय 86 हजार रूपये की लागत आयी थी
  • एड्विन लैंडसियर लूट्यन्स (Edwin Landseer Lutyens) भारत के राष्‍ट्रपति भवन और इंडिया गेट को भी डिजायन किया था
  • संसद भवन एक गोलाकार भवन है जिसके केन्‍द्र में एक केन्‍द्रीय कक्ष है
  • इस केन्‍द्रीय कक्ष की गुंबद 98 फुट व्‍यास केे साथ विश्‍व की भव्‍य गुंबदों में से एक है
  • अंग्रेजों ने 15 अगस्‍त 1947 को इसी कक्ष में भारत को सत्‍ता हस्‍तांतरित की थी
  • इस केन्‍द्रीय कक्ष के तीन और राज्‍यसभा, लोकसभा और केन्‍द्रीय लाइब्रेरी स्थित है
  • कोलकाता नेशनल लाइब्रेरी के बाद यह देश की सबसे बडी लाइब्रेरी है
  • संसद भवन की लाइब्रेरी में भारतीय संविधान की हिन्‍दी और अंग्रेजी में हाथ से लिखी प्रतिलिपि को नाइट्रोजन गैस से भरे चैंंबर में सुरक्षित रखा गया है
  • संसद भवन की बालकॉनी में 144 खंभे लगे है
  • संसद भवन में 12 दरवाजे और एक मुख्‍य दरवाजा है

Tag – Basic Facts about Indian Parliament, Parliament of India, unknown facts about Indian Parliament House,